3.4 C
London
Tuesday, February 27, 2024

22 व 23 सितंबर को एचबी स्पेशिलिटी हास्पिटल रुद्रपुर में घुटने व कंधे के उपचार लिए विशेष शिविर का होगा आयोजन

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,रुद्रपुर ।  यदि आप घुटने और कंधे के रोग से परेशान हैं और आपको आप्रेशन की सलाह दी गई है तो यह खबर आपके काम की है।  22 व 23 सितंबर को एचबी स्पेशिलिटी हास्पिटल रुद्रपुर में घुटने व कंधे के उपचार के लिए एक विशेष शिविर लगने जा रहा है, जिसमें अमेरिका के रिजनेटिव मेडिकल स्पेशलिस्ट डाक्टर नाथन कैट्स उपलब्ध रहेंगे।

एचबी स्पेशिलिटी हास्पिटल के एमडी व मशहूर हड्डी रोग विशेषज्ञ डाक्टर हिमांशु बंसल ने बताया कि 22 व 23 सितंबर को आयोजित इस कैंप में अमेरिका के रिजनेटिव मेडिकल स्पेशलिस्ट डाक्टर नाथन कैट्स उपलब्ध रहेंगे। बताया कि घुटने व कंधे के रोगियों को आप्रेशन से बचाने के अत्याधुनिक स्टेम सेल व पीआरपी विधि द्वारा उपचार किया जाएगा। पहले रोगियों का परीक्षण होगा और फिर आवश्यकतानुसार उपचार किया जाएगा।

डाक्टर बंसल ने बताया कि इस उपचार में किसी प्रकार का केमिकल का इस्तेमाल नहीं होता। स्टेम सेल और पीआरपी पद्धति में किसी बाहरी दवा की जरूरत नहीं होती है। मरीज के अंदर से ही फैट या खून द्वारा स्टेम सेल या ग्रोथ फैक्टर द्वारा जो कि कोशिकाओं और टिश्यू को मजबूत और संतुलित करते हैं। उसका इंजेक्शन के माध्यम से उपचार में इस्तेमाल किया जाता है। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता। इस विधि में कोई आप्रेशन नहीं होता, क्योंकि इसमें रोगी के शरीर के तत्व से ही उपचार होता है।

टेंडोनाइटिस, रोटेटर कफ टूटना, रीढ़ की हड्डी की स्थिति, जोड़ों में गठिया, अत्यधिक उपयोग की चोटें, और हर्नियेटेड डिस्क के कारण सूजन ऐसी कई बीमारियां हैं जिनका पीआरपी और स्टेम सेल थेरेपी प्रभावी ढंग से इलाज कर सकते हैं। स्टेम कोशिकाओं को अस्थि मज्जा या वसा (वसा) ऊतक से प्राप्त किया जा सकता है, जबकि पीआरपी आपके रक्त के नमूने से प्राप्त प्लेटलेट्स की एकाग्रता है।

उन्होंने कहा कि घुटने व कंधे के रोगी अपना पंजीकरण अस्पताल पहुंच कर करवा सकते हैं। कहा कि जिन रोगियों को आप्रेशन की सलाह दी गई है उनके लिए यह कैंप बहुत लाभदायक सिद्ध होने वाला है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »