20.6 C
London
Tuesday, July 16, 2024

हाईकोर्ट: यहां डीएम और पुलिस प्रशासन को ट्रैफिक सुधारने के निर्देश

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने नैनीताल में सीजन के दौरान हो रहे ट्रैफिक जाम को लेकर सुनवाई को कल भी जारी रखा है। मुख्य न्यायधीश विपिन सांघी और न्यायमूर्ती राकेश थपलियाल की खण्डपीठ ने कहा कि अगर इस समस्या को समय पर नही सुलझाया गया तो यहाँ के हालात भी जोशीमठ की तरह हो सकते हैं।

अधिवक्ता प्रभा नैथानी के नैनीताल में जाम को लेकर लिखे पत्र का मुख्य न्यायाधीश ने स्वतः संज्ञान लिया और इसे जनहित याचिका की तरह सुना। न्यायालय ने नाराजगी जताते हुए कहा कि पुलिस की ट्रैफिक यूनिट ने ट्रैफिक मैनेजमेंट को नजरअंदाज कर रखा है, जिसकी वजह से अव्यवस्था उत्तपन्न हो रही है। आम लोगों के साथ पर्यटकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। न्यायमूर्ति राकेश थपलियाल ने कहा कि नैनीताल में पार्किंग की जगह कम है, गाड़ियों की भी भीड़ से बचने के लिए यहाँ हैली सेवा सुरु करी जा सकती है। उन्होंने रानीबाग से लेकर नैनीताल तक केबल कार की व्यवस्था और शटल सेवा बढ़ाने को लेकर कई बात कहीं।

मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री से चर्चा के दौरान कहा था कि नैनीझील में तल्लीताल से मलीताल के बीच इलैक्ट्रिक फैरी बोट की व्यवस्था की जा सकती है। ये पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र भी बनेगी। उन्होंने नगर पालिका से पूछा है कि मॉल रोड में कितने ई रिक्शा चल रहे है ?

महिला अधिवक्ता प्रभा नैथानी के पत्र में कहा गया कि नैनीताल में खासकर सीजन के दौरान ट्रैफिक जाम की बहुत बड़ी समस्या उत्पन्न हो जाती है। सीजन के दौरान हजारों पर्यटक अपने वाहनों और टैक्सी से यहां आते हैं, जो जाम का मुख्य कारण बनता हैं।

उच्च न्यायालय की तरफ से समय समय पर जिलाधिकारी और पुलिस प्रसाशन को ट्रैफिक सुधारने के लिए निर्देश जारी हुए हैं परन्तु समस्या का हल आज तक नहीं निकला। यातायात पुलिस ट्रैफिक को आसानी से चलाने में नाकाम साबित हुई है, जिससे स्कूली बच्चों, कार्यालय कर्मचारियों और अधिवक्ताओं को समय पर पहुँचने में काफी दिखकत हो रही है।

पार्किंग की उचित व्यवस्था न होने के कारण होटल व्यवसायी भी पर्यटकों की गाड़ियों को सड़क पर ही खडी करवा रहे हैं। ऐसे में कई बार एम्ब्युलेंस समेत मरीजों को ले जा रही निजी गाड़ियां ट्रैफिक जाम का शिकार हुई हैं। कालाढूंगी, भवाली और हल्द्वानी से आने जाने वाले वाहनों पर नियंत्रण और चैकिंग नहीं हो रही है। जिससे जाम के हालात पैदा होते हैं और पुलिस खुद मूकदर्शक बनी रहती है। इंडिया होटल के पास जू शटल सेवा लगी रहती है जिसकी वजह से और जाम लग जाता है। उसे भी आगे शिफ्ट किया जाय।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »