9.6 C
London
Tuesday, February 20, 2024

श्री श्याम सकीर्तन का आयोजन बड़े ही धूमधाम से किया गया

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,गदरपुर। श्री श्याम मित्र मंडल के तत्वधान में नगर की विशाल अनाज मंडी में भव्य श्री श्याम सकीर्तन का आयोजन बड़े ही धूमधाम से किया। श्री श्याम सकीर्तन में मुख्य रूप से पहुचे परम् पूज्य महाराज श्री महिपाल जी महाराज (रमणरेती वृन्दावन धाम) के सानिध्य बाबा के सकीर्तन से पूर्व विधिवत पूजन किया गया। सकीर्तन हेतु पूजन श्री सनातन धर्म मन्दिर के पुजारी श्री विजय शास्त्री द्वारा विधिवत रूप से कराया गया।

जिसमें बाबा की पूर्ण पूजा जजमान के रूप में आये वरिष्ठ समाज सेवी विनोद भुसरी एवं सनातन धर्म मन्दिर के अध्यक्ष वेद बजाज के परिवार द्वारा श्याम मित्र मंडल के साथ संयुक्त रूप से कराई। पूजन के पश्चात बाबा श्याम की सुंदर व मनमोहक छवि के दर्शन खोले गए व रमणरेती से आये पूज्य महाराज महिपाल जी के द्वारा बाबा श्याम के चरणों मे ज्योत जलाकर बाबा श्याम का आवाहन किया गया तत्पश्चात भजनों का सिलसिला प्रारम्भ हुआ।जिसमे सर्वप्रथम क्षेत्र के प्रसिद्ध व श्याम जगत के विख्यात भजन प्रवाहक भाई अमन सवारियां ने गणेश वंदना से शुरवात की ततपश्चात हनुमान चालीसा ओर फिर एक से बढ़कर एक भजन गाने प्रारंभ किया जिस पर हजारों की संख्या में आए शाम प्रेमी नाचे और झूमने पर मजबूर हो गए।

अमन सांवरिया ने मुख्यरूप से गजब मेरे खाटू वाले,पूरा है भरोसा मेरी हार नही होगी,हारे का सहारा है मेरा श्यामधणी,बम लहरी,बाबा है मुझे फिर और क्या चाहिए,ओ बाबा इतनी कृपा मैं तेरी पाता रहू तू खाटू बुलाता रहे और मैं आता रहू,साथी हमारा कौन बनेगा तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा,सुन साँवरे मेरे साँवरे तेरा दर्शन मुझे चाहिए जैसे भजनों से मन्त्रमुग्द कर दिया।वही हर किसी के मुख पर बाबा श्याम की छवि को देखते ही एक बात सुनने को मिली कि आज बाबा गजब का लग रहे है नजर उतारो बाबा की। वो भी इसलिए क्यों कि बाबा श्याम की जिस छवि का श्रृंगार हुआ वो भी अपने आप मे एक महत्वपूर्ण इतिहास रखता है। क्यों कि नगर के रहने वाले और बाबा श्याम के लाडले भाई राहुल चन्द्रा के निवास पर विराजमान बाबा श्याम की सेवा निरन्तर चलती रहती है भले ही बाबा के भोग हो या आरती समय पर होती है।

इतना ही नही जब भी राहुल चन्द्रा द्वारा बाबा का श्रृंगार किया जाता है तो बाबा की असीम कृपा से उस छवि के दर्शन कुछ अलग ही कृपा बरसाते नजर आते है।राहुल चन्द्रा का कहना है कि बाबा श्याम की कृपा से ही वह बाबा का श्रृंगार कर पाते है और इस कृपा के पीछे उन्होंने एक ही बात कही करने वाले श्याम जी कराने वाले श्याम जी मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है करते हो तुम बाबा मेरा नाम हो रहा है।दरबार मे आये मुख्य रूप से क्षेत्रीय विधायक अरविंद पांडेय,उत्तरांचल दर्पण के प्रधान संपादक परमपाल सुखीजा, व्यापार मंडल अध्यक्ष दीपक बेहड़,वरिष्ठ समाजसेवी संजय ठुकराल,वरिष्ठ समाजसेवी विनीत जैन,वरिष्ठ समाजसेवी विनोद भुसरी,वेद बजाज,आढ़ती संगठन के अध्यक्ष सतीश घिक सहित तमाम राजनैतिक सामाजिक व धार्मिक संगठनों ने बाबा के भव्य सकीर्तन की भरपूर सराहना करते हुए श्याम मित्रमंडल को बधाई दी।

यहां के शाम प्रेमी आरती समय तक हजारों की संख्या में बाबा श्याम के चरणों में बैठकर संकीर्तन का आनंद ले रहे हैं।वही बाबा श्याम की छवि के एक दर्शन पाने के लिए शाम 7:00 बजे से ही श्याम प्रेमियों की कतारे लगनी शुरू हो गई जो की रात्रि लगभग 2:00 तक चलती रही और बाबा की छवि के दर्शन प्राप्त करती रही। श्याम बाबा के भव्य संकीर्तन में आए शाम प्रेमियों के जलपान के लिए कढ़ी चावल के प्रसाद के रूप में भरपूर लंगर का इंतजाम राधा रसोई के माध्यम से किया गया अखिल भारतीय श्री श्याम परिवार के श्याम प्रेमियों द्वारा हजारों की संख्या में आए शाम प्रेमियों को श्रद्धा और भाव के साथ राधा रसोई में कढ़ी चावल का प्रसाद भरपूर रूप से खिलाया गया। अखिल भारतीय श्याम परिवार के सभी सदस्यों ने श्रद्धा भाव के साथ बाबा श्याम के चरणों में हाजिरी लगाकर कहा उन्हें बहुत खुशी है कि बाबा श्याम हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी बहुत ही धूमधाम से अपने बच्चों से मिलने आए हैं और उन्हें सेवा करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है।भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष गुंजन सुखीजा एवं युवा समाजसेवी लवली हुड़िया ने श्री श्याम मित्र मंडल को बधाई संदेश देते हुए बाबा श्याम के भव्य सकीर्तन की सराहना की। उन्होंने कहा वह देहरादून होने के कारण सकीर्तन में नही पहुँच सके लेकिन सोशल मीडिया पर हो रहे लाइव सकीर्तन का भरपूर आंनद लेते हुए वह देहरादून से गदरपुर तक आये है उन्होंने श्री श्याम मित्र मंडल के समस्त श्याम प्रेमियों को भी बधाई दी ।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »