12.3 C
London
Tuesday, June 18, 2024

यहां गुलदार के मामले में हुए बड़े आदेश,स्कूलों में 2 दिन की छुट्टी

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। उत्तराखण्ड के मैदानी इलाकों के साथ-साथ पर्वतीय क्षेत्र में भी गुलदार का आतंक लगातार जारी है । इस वन्य जीव द्वारा आए दिन लोगों पर हमला किया जा रहा है। अब यह खूंखार जानवर दहशत का पर्याय बनता जा रहा है। बीते रोज श्रीनगर के खिर्सू ब्लाॅक में दो अलग-अलग जगहों पर गुलदार ने दो बच्चों को अपना निवाला बना दिया। घटना के बाद प्रशासन ने स्कूलों में दो दिन के अवकाश की घोषणा कर दी है। इस अवकाश की घोषणा के तहत इलाके के सभी सरकारी और गैर सरकारी विद्यालय दो दिन तक बंद रहेंगे।

ग्वाड़ गांव में वन विभाग ने 5 ट्रैप कैमरे लगाने के साथ गुलदार को पकड़ने के लिए 1 पिंजरा लगा दिया है। इसके साथ साथ श्रीनगर में ग्लास हाउस ओर हाइडिल कॉलोनी में एक एक पिंजरे लगाए गए हैं। इसके साथ साथ मृतक दोनों बच्चों के परिजनों को 6-6 लाख रुपये के मुआवजे की व्यवस्था करने की कार्रवाई वन विभाग ने शुरू कर दी है।

बताते चलें कि रविवार का दिन पौड़ी जनपद के लिए दुखद भरा रहा। यहां दो घटनाओं ने सभी को सदमे में डाल दिया। ग्वाड़ गांव में 11 साल के अंकित पर गुलदार ने हमला कर उसकी जान ले ली। लोग इस सदमे से उबरे भी नहीं थे कि श्रीनगर में रात्रि 9 बजकर 30 मिनट पर करीब 4 साल के अयान को गुलदार घर के आंगन से उठा ले गया और उसको मार डाला। घटनाओं के बाद स्थानीय लोगों में बेहद आक्रोश है।

बच्चों के लिए राहत भरी खबर है यहां जिला अधिकारी डॉ आशीष चौहान ने 6 फरवरी को भी खिसूं विकासखंड में वन्य जीव के संभावित हमले को देखते हुए स्कूल बंद करने का निर्देश दिया है. गौरतलब है कि महदाल वनप्रभाग के खिसूं रेंज के अन्तर्गत विकास खण्ड खिसूं क्षेत्रान्तर्गत ग्राम ग्वाड में दिनाक 03-02-2024 को गुलदार/बाघ द्वारा एक बच्चे पर हमला किया गया तथा तथा 04 फरवरी 2024 की साथ पुनः ग्लॉस हाउस श्रीनगर क्षेत्रान्तर्गत बाघ द्वारा एक बच्चे पर हमला किया गया है। क्षेत्रान्तर्गत गुलदार / बाघ की बढ़ती गतिविधियों के दृष्टिगत विकासखण्ड खिसूं के समरत शासकीय, अर्द्धशासकीय, समस्त निजी मान्यता प्राप्त विद्यालयों एवं समस्त आगनबाडी केन्द्रों में दिनांक 05 फरवरी 2024 एवं 06 फरवरी 2024 का दो दिन अवकाश घोषित किया जाता है।

प्रभागीय वनाधिकारी, गढ़वाल वन प्रभाग, पौड़ी का पत्रांक-2616/6-3-1, दिनांक 05 फरवरी 2024 से अवगत कराया गया है कि दिनांक 03.02.2024 को सांय लगभग 6:30 से 7:30 बजे मा० अंकित (उग्र-11 वर्ष) पुत्र श्री राकेश सिंह, ग्राम-ग्वाड, पो०-खिर्स, पट्टी-चलणस्यूं, पौड़ी गढ़वाल में गौशाला के सामने खेलते समय गुलदार द्वारा हमला किया गया, जिसमें बालक की मृत्यु हो गई।

घटना के पश्चात पुनः दिनांक 04.02.2024 को मा० अयान अन्सारी (उम्र-04 वर्ष) पुत्र श्री सलाम उद्दीन अन्सारी, ग्लास हाउस रोड़, श्रीनगर, पौड़ी गढ़वाल को रात्रि लगभग 9:00 बजे गुलदार द्वारा घर के आंगन से उठा कर लगभग 20 मीटर तक घसीटते हुये ले जाया गया। परिजनों एवं आस-पास के लोगों द्वारा जय शोर-गुल करते हुये बालक को गुलदार के चंगुल से छुडवाने का प्रयास किया गया तो गुलदार द्वारा काफी समय तक बालक को नहीं छोड़ा गया एवं गुलदार द्वारा परिजनों एवं आस-पास के लोगों को कुछ देर तक उग्रता के साथ देखा गया। उक्त दुखद घटना में भी बालक की मृत्यु हो गई। प्रभागीय वनाधिकारी के अनुसार उक्त क्षेत्र में तैनात गश्ती टीम को पुनः गुलदार रात्रि के 02:00 बजे घटनास्थल पर दिखाई दिया। प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा अधोहस्ताक्षरी को दूरभाष पर घटनाकम से अवगत कराये जाने पर अधोहरताक्षरी द्वारा तत्काल गुलदार को पकडने हेतु पिंजरा लगाने एवं आवश्यकता पडने पर ट्रैक्युलाईज करने की अनुमति प्रदान की गयी। रात में गरती दल को गुलदार के गुरराने की आवाज सतत सुनाई दे रही है, जिससे गुलदार के उसी क्षेत्र में बने रहने की पुष्टि होती है।

उक्त क्षेत्रों में कैमरा टैप, पी०आई०पी० एवं गरती दल तैनात किये गये है। उक्त दोनों घटनायें सांयकाल के समय घटित हुई है एवं दोनों घटनाओं के बीच की हवाई दूरी 9.2 किमी0 है। घनी आबादी के क्षेत्र मे गुलदार द्वारा इस प्रकार घात लगाकर हमला करना गुलदारर का सामान्य व्यवहार नही है। दोनों घटनास्थलों के बीच की दूरी एवं हमला करने की प्रणाली के परीक्षण के उपरान्त उक्त दोनों हमलें एक ही गुलदार द्वारा किये जाने की प्रबल संभावना प्रतीत होती है।

प्रयासों के उपरान्त गुलदार के पिंजरें मे पकड मे न आने एवं टैंक्युलाईज न होने के दृष्टिगत एवं क्षेत्र मे हुई दोनों घटनाओं को देखते हुये गुलदार द्वारा पुनः मानव पर हमला किये जाने की सम्भावना से इन्कार नही किया जा सकता है। प्रभागीय वनाधिकारी द्वारा उपरोक्त के दृष्टिगत गुलदार को नष्ट करने की अनुमति चाही गयी है।

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »