21.8 C
London
Tuesday, June 25, 2024

पहलवान बोले- ‘क्रिकेटर्स में साहस नहीं’, 3 बड़े क्रिकेटर्स ने अब बड़ी बात कह दी

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। भारतीय पहलवानों का रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह (Brijbhushan singh) के खिलाफ धरना प्रदर्शन जारी है. विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक समेत दर्जनों पहलवान मैदान पर डटे हैं. यौन शोषण के आरोप में FIR दर्ज करने की मांग कर रहे हैं. इस बीच विनेश फोगाट ने एक सवाल खड़ा किया कि उनके समर्थन में क्रिकेटर्स क्यों नहीं बोल रहे हैं? ये बोलना था कि कई क्रिकेटर्स खुलकर इन रेसलर्स के सपोर्ट में आ गए हैं।

पहले कपिल देव फिर हरभजन सिंह और अब इरफान पठान ने रेसलर्स के सपोर्ट में सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. पूर्व क्रिकेटर और AAP के राज्यसभा सांसद हरभजन सिंह ने ट्वीट कर लिखा।

साक्षी, विनेश भारत की शान हैं. एक खिलाड़ी के तौर पर यह देखकर दुख होता है कि हमारे देश के इन गौरवों को सड़कों पर आकर प्रोटेस्ट करना पड़ रहा है. मैं प्रार्थना करता हूं कि उन्हें जल्द ही न्याय मिले.’

इसके साथ ही हरभजन सिंह ने #IStandWithWrestlers हैशटैग का भी यूज किया।

दिग्गज ऑलराउंडर इरफान पठान ने समर्थन में ट्वीट कर लिखा,

‘भारतीय एथलीट हमेशा हमारे गौरव होते हैं, ना कि केवल तब जब वो हमारे लिए मेडल लेकर आते हैं…’

इससे पहले 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के कप्तान कपिल देव ने भी रेसलर्स के सपोर्ट में इंस्टा स्टोरी शेयर किया. जिसमें उन्होंने रेसलर्स की फोटो शेयर करते हुए सवाल किया,

‘क्या इन्हें कभी न्याय मिल पाएगा?’

विनेश ने उठाए थे सवाल

दरअसल एक दिन पहले ही विनेश फोगाट ने क्रिकेटर्स के इस मामले पर चुप रहने को लेकर सवाल उठाए थे. उन्होंने कहा कि उन्हें ये देखकर दुख हुआ है कि स्टार क्रिकेटर्स और दूसरे शीर्ष खिलाड़ियों में सत्ता से सवाल पूछने का साहस नहीं है. इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में विनेश ने बताया कि पूरा देश क्रिकेट को पूजता है, लेकिन किसी भी क्रिकेटर ने उनके मुद्दे पर बात नहीं की. विनेश ने आगे कहा कि वो ये नहीं चाहतीं कि कोई उनके पक्ष में बोले, लेकिन कम से कम एक निष्पक्ष संदेश तो दिया जा सकता है. उन्होंने क्रिकेट, बैडमिंटन, एथलेटिक्स और बॉक्सिंग सहित सभी खिलाड़ियों के बारे में ये बात की.

विनेश ने अमेरिका के ब्लैक लाइव्स मैटर (BLM) मूवमेंट का उदाहरण दिया और कहा कि दुनियाभर के खिलाड़ियों ने नस्लवाद और भेदभाव से लड़ाई में साथ दिया था. उन्होंने कहा कि ऐसा भी नहीं है कि हमारे देश में बड़े खिलाड़ी नहीं हैं. अमेरिका में ब्लैक लाइव्स मैटर मूवमेंट के दौरान उन्होंने अपना समर्थन दिया था, क्या हम इतनी भी उम्मीद नहीं कर सकते हैं।

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »