2 C
London
Monday, March 4, 2024

टोल प्लाजा प्रबंधक के खिलाफ धमकी का हुआ मुकदमा दर्ज

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,काशीपुर। टोल प्लाजा के प्रबंधक पंकज दुबे द्वारा अय्याशी के लिए सहकर्मी पर गांव की महिलाओं को जबरदस्ती उठाने के लिए दबाव बनाने तथा विरोध करने पर जान से मारने की धमकी देने के मामले में कुंडा पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया है। यह जानकारी मोबाइल फोन पर शिवराजपुर पट्टी पुलिस चौकी प्रभारी कैलाश देव ने दी। उन्होंने बताया कि मामला जांच का विषय है। ज्ञातव्य है कि कुंडा थाना क्षेत्र में स्थित टोल प्लाजा पर पोस्टेड प्रबंधक पंकज दुबे के बारे में ग्राम हल्दुआ साहू निवासी धर्मेंद्र कुमार पुत्र लेखराज नामक व्यक्ति ने पिछले दिनों आरोप लगाया कि उसे हल्दुआ साहू बाबर खेड़ा मार्ग पर बैरिकेडिंग के स्थान पर वाहनों को सुचारु करने हेतु डड्ढूटी के लिए लगाया गया है। पंकज दुबे के कहने पर गांव के कुछ और लड़कों को भी उसने अपने साथ ड्यूटी पर लगा लिया। आरोप है कि पंकज दुबे से जब मेहनताने की रकम मांगी तो उसने अÕयाशी के लिए गांव की किसी भी महिला को जबरदस्ती उठाने की बात कही। विरोध करने पर पंकज दुबे रात्रि की 1ः00 बजे शिकायतकर्ता की घर पहुंच गया। वहां उसने डिमांड पूरी न करने पर जान से मारने की धमकी दी। ग्रामीणों को जब इसका आप पता चला तो वह आक्रोशित हो उठे। भाजपा के अमित नारंग समाजवादी पार्टी के रवि छाबड़ा के नेतृत्व में दर्जनों गांव के लोगों ने पुलिस चौकी शिवराजपुर पट्टी पहुंचकर इस मामले की तहरीर चौकी इंचार्ज को दी। चौकी इंचार्ज ने आरोपी टोल प्लाजा प्रबंधक के खिलाफ धारा 506 आईपीसी के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू की है।

काशीपुर। टोल प्लाजा प्रबंधक पंकज दुबे के बारे में सूत्रों का कहना है कि वह उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जनपद का मूल रूप से रहने वाला है। दबी जवान यह भी चर्चा है कि यहां इसके खिलाफ संगीन मामले भी दर्ज हैं। अपुष्ट सूत्रों का यह भी कहना है कि पंकज दुबे के तार यूपी के तमाम अपराधी प्रवृत्ति के लोगों से जुड़े हुए हैं। वही हल्दुआ साहू के ग्रामीण पुलिस की कार्यवाही से संतुष्ट नहीं है। अभियुक्त के मूल निवास के बारे में जब चौकी प्रभारी से जानकारी लेने का प्रयास किया गया तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। यहां बता दें कि इस मामले में एक तहरीर भुक्तभोगी के द्वारा दी गई थी वहीं दूसरी तहरीर ग्रामीण व जनप्रतिनिधियों की ओर से पुलिस को सौंपी गई थी।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »