11.3 C
London
Friday, April 19, 2024

जग्गा ने किया खुलासा, पैरोल से भागने में रुद्रपुर शहर के इस डॉक्टर ने की थी मदद

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,उत्तराखंड: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की गिरफ्त में आने के बाद उधमसिंहनगर में अपराध करने और आतंकी संगठनो में शामिल होना दिल्ली पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में बताया था जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एसएसपी उधमसिंहनगर को बताया था जिसके बाद एसएसपी द्वारा एसआईटी का गठन किया गया था वहीं 48 घंटे की रिमांड पर उधमसिंहनगर लाया गाय। आपको बता दें की पुलिस की पूछताछ में आतंकी जगजीत सिंह उर्फ जग्गा में पुलिस ने पैरोल में भागने के लिए रुपये, शर्ट और वाहन उपलब्ध कराने वाले एक आरोपित को गिरफ्तार किया है।

आपको बता दें की आरोपित से तीन जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं। कोर्ट में पेश कर जेल भेजने की तैयारी है। जबकि दूसरे की तलाश जारी है। आतंकी गतिविधि में एटीएस के हाथ चढ़े जग्गा को पुलिस तीन दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं थानाध्यक्ष गदरपुर राजेश पांडेय पुलिस टीम के साथ कोपा कृपाली गूलरभोज निवासी जगजीत सिंह उर्फ जग्गा को लेकर गूलरभोज रोड से सुखशांति नगर होते हुए काशीपुर रुद्रपुर राष्ट्रीय राजमार्ग बाईपास पहुंचे। जहां पर तेजा-फौजा से गुजरने पर जग्गा ने गाड़ी रुकवाई और बताया कि यह वही स्थान है, जहां पैरोल के दौरान उसका कुछ लोगों से विवाद हो गया था। जिसकी मरहम पट्टी उसने डाक्टर मोहित ग्रोवर के क्लीनिक में कराई थी। मोहित ग्रोवर ने पैरोल से भागने में उसकी आर्थिक मदद कराई थी। इसके अलावा मोहित ग्रोवर ने उसके लिए शर्ट भी खरीदी थी यही नहीं जेल में उसके साथ रहे चेतन पाहूजा ने भी उसे पैरोल में भागने में मदद की थी। इस दौरान चेतन ने अपने दोस्त की कार से उसे गदरपुर से काशीपुर तक छोड़ा था। पुलिस ने प्रीत कालोनी गदरपुर से चेतन पाहूजा को उठा लिया। बता दें की पूछताछ में चेतन पुत्र भूषण लाल पाहूजा ने बताया कि जग्गा का दोस्त होने और उसे भागने में मदद करने वालों के विरुद्ध पुलिस कार्रवाई की बात सुनकर वह डरा था। पुलिस ने चेतन पर गदरपुर थाने में केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। उसकी तलाशी में पुलिस को तीन कारतूस जिंदा 315 बोर बरामद हुए।

वहीं जग्गा पुत्र गुरमेल सिंह की निशानदेही पर पुलिस उसके घर पहुंची। जहां आंगन में पार्क बाइक यूके-06-एवाइ-8433 की तरफ इशारा करते हुए बताया कि यही बाइक है, जिससे वह मोनू चीमा के साथ पैरोल जंप कर गूलरभोज से भागा था। मोनू चीमा बाइक चलाकर उसे गूलरभोज से गदरपुर तक लेकर गया था। इस पर पुलिस ने बाइक कब्जे में ले लिया। साथ ही घर के आंगन के दाहिने किनारे की तरफ इशारा करते हुए बताया कि झोपडी के पास जो मटकी है, उसमें तमंचा है। जिस पर पुलिस ने तमंचा व कारतूस बरामद की। पुलिस ने जग्गा पर आर्म्स एक्ट का भी केस गदरपुर थाने में दर्ज कर लिया है।

आपको जानकारी के लिए यह भी बता दें की आतंकी संगठन आइएसआइ के लिए असलहे व रुपयों के लिए काम करने वाले जग्गा से 48 घंटे की पुलिस कस्टडी रिमांड पर 30 घंटे पूछताछ की गई। इस दौरान आइबी, खुफिया एजेंसियों, एसटीएफ, एसओजी और पुलिस की टीम ने 400 से अधिक सवाल दागकर उससे जानकारी हासिल की। बता दें की जिसके बाद पूछताछ की रिपोर्ट तैयार की गई है। जनवरी, 2023 में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जग्गा व उसके साथी नौशाद को आतंकी गतिविधि में गिरफ्तार कर उनके पास से भारी तादाद में हथियार बरामद किए थे। बीते मंगलवार शाम को पुलिस उसे सितारगंज जेल ले आई थी। बुधवार को कोर्ट ने जगजीत सिंह ऊर्फ जग्गा को 48 घंटे की रिमांड पर भेजने के आदेश दिए थे। इसके बाद पुलिस, खुफिया, एसओजी, एसटीएफ और आइबी की संयुक्त टीम ने सिडकुल चौकी में उससे पूछताछ शुरू कर दी थी।सूत्रों के मुताबिक आइबी, खुफिया, एसटीएफ, एसओजी और पुलिस ने पूछताछ के बाद इनवेस्टिगेशन रिपोर्ट भी तैयार की। पुलिस कस्टडी रिमांड के दौरान आतंकी जग्गा को पुलिस ने गदरपुर, बाजपुर के साथ ही गूलरभोज भी ले गई।

वहीं पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस दौरान पांच-छह अन्य लोगों के नाम भी सामने आए हैं। जिन पर पुलिस नजर रखे हुए हैं, ताकि उनकी संलिप्तता के साक्ष्य मिलते ही उनकी गिरफ्तारी की जा सके।पूछताछ के बाद भेजा सितारगंज जेलएसपी काशीपुर अभय सिंह ने बताया कि शुक्रवार शाम चार बजे रिमांड अवधी पूरी होने के बाद जग्गा को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सितारगंज जेल भेज दिया गया है। जहां से उसे न्यायालय में पेश करने के बाद जल्द ही दिल्ली पुलिस अपने साथ ले जाएगी।

 

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »