12.6 C
London
Sunday, May 26, 2024

अविश्वास प्रस्ताव: संविधान में कोई जिक्र नहीं फिर भी गिर जाती है सरकार, जानें क्या है नियम

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। मोदी सरकार के खिलाफ आज संसद में कांग्रेस की अगुवाई में विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव की तैयारी कर रहा है। हालांकि अविश्वास प्रस्ताव में क्या होने वाला है, ये पहले से तय है क्योंकि संख्याबल साफ तौर पर मोदी सरकार के पक्ष में है और विपक्षी खेमे के लोकसभा में 150 से कम सदस्य हैं। ऐसे में यहां सवाल ये बनता है कि विपक्षी दल सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव क्यों लाते हैं। अविश्वास प्रस्ताव से कैसे सरकारें गिर जाती हैं और इसको लेकर जब संविधान में कोई प्राविधान नहीं है तो फिर नियम क्या है? अविश्वास प्रस्ताव से अब तक इतिहास में कितनी सरकारें गिरी हैं और आज के संभावित अविश्वास प्रस्ताव में मोदी सरकार के लिए कितना खतरा है? ये सारी बातें हम आपको समझाएंगे।

दरअसल संविधान में अविश्वास प्रस्ताव का जिक्र नहीं हैं। भारत के संविधान में संसदीय प्रक्रिया के रूप में अविश्वास प्रस्ताव का स्पष्ट उल्लेख नहीं है। हालांकि, यह संसदीय लोकतंत्र के वेस्टमिंस्टर मॉडल की संसदीय प्रणालियों से लिया गया है। अविश्वास प्रस्ताव केवल लोकसभा में ही पेश किया जा सकता है, जो भारतीय संसद का निचला सदन है। राज्यसभा, यानि कि उच्च सदन के पास अविश्वास प्रस्ताव लाने की शक्ति नहीं है। अविश्वास प्रस्ताव पर स्पीकर वोटिंग के बजाय कोई और फैसला भी ले सकते हैं।

अविश्वास प्रस्ताव का नियम क्या है?

संसदीय प्रणाली के नियम-198 के तहत व्यवस्था

हर सांसद को है अधिकार

पहले लोकसभा स्पीकर को नोटिस

स्पीकर देते हैं प्रस्ताव के लिए मौका

50 सदस्यों का समर्थन होना जरूरी

स्पीकर की मंजूरी के बाद फैसला

10 दिनों के अंदर होती है चर्चा

चर्चा के बाद वोटिंग होती है

प्रस्ताव पारित हुआ तो मौजूदा सरकार का जाना तय

सबसे पहले अविश्वास प्रस्ताव की कहानी-

पहला प्रस्ताव साल 1963 में आया

नेहरू सरकार के खिलाफ पहला प्रस्ताव

जेबी कृपलानी ये प्रस्ताव लाए

पक्ष में वोट- 62

विरोध में वोट- 347

अविश्वास प्रस्ताव से कितनी सरकारें गईं-

75 साल में 27 बार आया अविश्वास प्रस्ताव

साल 1978 में पहली बार इससे सरकार गिरी

1978 में मोरारजी देसाई की गई थी कुर्सी

विश्वास प्रस्ताव हारने वाले प्रधानमंत्री-

विश्वनाथ प्रताप सिंह

एचडी देवेगौड़ा

इंद्रकुमार गुजराल

अटल बिहारी बाजपेयी

चौधरी चरण सिंह

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »