13.1 C
London
Wednesday, May 29, 2024

पंतनगर विष्वविद्यालय के वैज्ञानिकों को मिला 25 लाख का इनाम

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,पंतनगर। । सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क आफ इण्डिया, मिनिस्ट्री आफ इलेक्ट्रॉनिक्स एण्ड इंफारमेषन टेक्नोलॉजी, गवर्मेन्ट आॅफ इण्डिया, संस्थान द्वारा एक स्मार्ट फार्म ग्रांट चैलेंज प्रतियोगिता आयोजित की गयी थी, जिसका उद्देष्य गन्ना उद्योग व गन्ना किसानों को समय पर उचित जानकारी देने के लिए कम्प्यूटर आधारित मॉडल/तंत्र के विकास था। इस प्रतियोगिता में आनलाइन माध्यम से लगभग 475 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में विष्वविद्यालय की ओर से निदेषक अनुसंधान, डा. अजीत सिंह नैन; विज्ञान एवं मानविकी महाविद्यालय, सहायक प्राध्यापक, डा. आर.एस. राजपूत; वरिष्ठ आई.टी. बैंगलोर, विषेषज्ञ श्री मयंक चैधरी एवं वरिष्ठ शोध अध्येता, डा. पारूल सेतिया द्वारा एक टीम के रूप में प्रतिभाग किया। स्क्रीनिंग अवधि में 475 में से 25 आवेदक चुने गये। इसके पष्चात् 25 आवेदकों द्वारा अपने प्रस्ताव का प्रस्तुतिकरण किया गया, जिसमें 10 आवेदकों को अगले चरण के लिए चुना गया। इन चुने गये आवेदकों को 03 माह की अवधि प्रोटोटाइप विकसित करने के लिए इनाम स्वरूप रू. 5 लाख प्रदान किया गया।

इसके उपरांत 03 माह बाद इन 10 चयनित आवेदकों द्वारा अपने कार्य का प्रस्तुतिकरण गन्ना मिल, लोनी में किया गया जिसमें 04 आवेदकों का प्रोटोटाइप से प्रोडक्ट विकसित करने हेतु चयन किया गया। पंतनगर विष्वविद्यालय की टीम का भी चयन हुआ एवं 20 लाख रूपये इनाम स्वरूप प्रदान किये गये, जिन को श्री अलकेष कुमार शर्मा, सचिव इलेक्ट्रोनिक्स एवं आई.टी. मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रदान किया गया। अगले चरण के लिए 06 माह की अवधि प्रदान की गयी है। इसके अंतिम चरण का प्रस्तुतिकरण 06 माह बाद होगा, जिसमें विजेता टीम को 50 लाख रूपये इनाम स्वरूप दिये जायेंगे व 02 वर्ष का समय अपने प्रोडक्ट को प्रदर्षित करने के लिए दिया जायेगा। इस प्रतियोगिता के माध्यम से पंतनगर टीम का मुख्य उद्देष्य गन्ना उद्योग व गन्ने की उपज का पूर्वानुमान देना, सिंचाई, सुक्रोज कन्टैन्ट, प्रक्षेत्र में नमी का अनुमान आदि की जानकारी देना है, जिसके लिए टीम द्वारा सुदूर संवेदन आकृतियों, सांख्यिकी व मषीन लर्निंग मॉडल्स, ऑटोमेषन आॅफ साफ्टवेयर एवं डेटा संग्रह व रख-रखाव पर कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर विष्वविद्यालय स्तर पर एक समारोह आयोजित किया गया, जिसमें विष्वविद्यालय कुलपति, डा. मनमोहन सिंह द्वारा रू. 20 लाख का चैक विष्वविद्यालय टीम को सौंपा गया। इस इस अवसर पर कुलपति द्वारा टीम को बधाई देते हुये अंतिम चरण के लिए षुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर विष्वविद्यालय के सभी निदेषकगण एवं अधिष्ठाता उपस्थित थे। विष्वविद्यालय का 34वां दीक्षांत समारोह 16 फरवरी 2023 को आयोजित होने वाला जिसकी समीक्षा हेतु कुलपति डा. मनमोहन सिंह चैहान द्वारा की गयी। इस समीक्षा बैठक में विष्वविद्यालय सभी अधिष्ठाता, निदेषक तथा विभिन्न समितियों के अध्यक्ष ने प्रतिभाग किया। इसी दौरान विद्यार्थियों की इस उपलब्धि के लिए सम्मानित किया गया।

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »