12.2 C
London
Sunday, April 14, 2024

इमाम से बेअदबी का आरोप, भीड़ ने किया कोतवाली का घेराव

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। हल्द्वानी के भोटिया पड़ाव इलाके में इमाम से बेअदबी कर अन्य नमाजियों के साथ मारपीट करने वाले एक तबके के कुछ लोगों के खिलाफ एक सम्प्रदाय के सैकड़ों लोगों ने कोतवाली का जबरदस्त घेराव कर जबरदस्त प्रदर्शन किया। उन्होंने इस तरह की वारदात करने वालों की गिरफ्तारी की मांग की।

सोमवार देर रात कोतवाली में भारी भीड़ की मौजूदगी और हालात के हंगामेदार होने के अंदेशे के चलते आई.जी.कुमाऊं नीलेश आनंद भरने और जामा मस्जिद के शहर इमाम मौलाना मोहम्मद आजम कादरी पहुंच गए। इमाम और आई.जी.ने आंदोलनरत लोगों को समझाने का भरसक प्रयास किया और उनसे शांत होने की अपील की। उन्होंने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे लोगों से वादा किया गया कि जल्द ही माहौल खराब करने वाले उपद्रवियों को गिरफ्तार किया जाएगा और प्राधिकरण द्वारा लगाई गई बिल्डिंग की सील को हटाया जाएगा।

इस आश्वासन के बाद लोग धीरे-धीरे अपने अपने घरों को रवाना हो गए। देर रात आक्रोशित लोगों की तहरीर पर एक नामजद समेत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सोमवार को शाम शहर के भोटियापड़ाव स्थित पार्क के सामने वाली गली की इमारत में धार्मिक गतिविधि चल रही थी। आरोप लगाया जा रहा है कि जानकारी होने पर दूसरे पक्ष के लोगों ने वहां पहुंचकर विरोध और हंगामा करना शुरू कर दिया। आरोप यह भी है कि हंगामा कर रहे लोगों ने धर्मगुरु के साथ हाथापाई की और वहां मौजूद अन्य लोगों के साथ मारपीट की। संवेदनशील मामले की सूचने पर पुलिस भी तत्काल वहां पहुंच गई। सिटी मजिस्ट्रेट के साथ नगर निगम की टीम भी मौके पर पहुंच गई। मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट ने मकान मालिक से जमीन के कागजात और निर्माण की अनुमति दिखाने के लिए कहा। कागजात और परमिशन नहीं होने पर प्राधिकरण ने भवन को सील करने की कार्रवाई की।

इसके बाद इस कार्रवाई से नाराज लोगों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ कोतवाली पहुंचकर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। भारी तादाद में लोगों ने नैनीताल रोड स्थित कोतवाली पहुंचकर घेराव किया और धर्म गुरु से अभद्रता का आरोप लगाया। देर रात लगभग 2:00 बजे तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज होने और आई.जी.नीलेश आनंद भरडे के आश्वासन पर हंगामा शांत हुआ।

कोतवाली में 700 से 800 लोगों के जमा होने पर बनभूलपुरा, कोतवाली, काठगोदाम और मुखानी थानों की पुलिस बुला ली गई। कोतवाली परिसर को सुरक्षित कर लिया। लोगों का गुस्सा इतना ज्यादा था कि वे कोतवाली परिसर के अंदर ही नारेबाजी करने लगे। मौके पर स्थिति को संभालने के लिए पुलिस के आला अधिकारी भीड़ को समझाते रहे।देर रात तक आईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे ,एसएसपी नैनीताल पंकज भट्ट, एसपी क्राइम जगदीश चंद्र,एसपी सिटी हरबंस सिंह, सीओ भूपेंद्र सिंह धोनी, एसडीएम मनीष कुमार कोतवाली में मौजूद रहे ।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक डीजीपी उत्तराखंड अशोक कुमार ने आईजी कुमाऊं नीलेश आनंद भरणे और एसएसपी पंकज भट्ट के साथ फोन पर वार्ता कर हालात की जानकारी ली डीजीपी ने आला अधिकारियों को कानून तोड़ने और लोगों को बरगलाने वालों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिए, उन्होंने निर्देश दिए कि सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर रखी जाए कोई भी किसी तरह की गलत अफवाह ना फैलाए।एसएसपी नैनीताल पंकज भट्ट ने कहा शहर का माहौल खराब करने वालों के खिलाफ पुलिस द्वारा सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »