3.4 C
London
Tuesday, February 27, 2024

WhatsApp पर अब UPI ऐप्स और नेटबैंकिंग से भी कर सकेंगे पेमेंट

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी।  WhatsApp अब भारत में यूजर्स को UPI ऐप, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और नेट बैंकिंग का उपयोग करके ऐप पर पेमेंट्स करने की अनुमति देगा। इसका उद्देश्य प्लेटफॉर्म पर खरीदारी करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

WhatsApp अब भारत में यूजर्स को यूपीआई ऐप, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और नेट बैंकिंग का उपयोग करके ऐप पर पेमेंट्स करने की अनुमति देगा। मैसेजिंग ऐप ने यूजर्स के लिए अधिक पेमेंट ऑप्शन लाने के लिए रेजरपे और पेयू के साथ साझेदारी की है। इसका उद्देश्य यूजर्स को प्लेटफॉर्म पर खरीदारी करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

कंपनी के ब्लॉग के मुताबिक, “हम आपके लिए एक ऐसा फीचर लाने जा रहे हैं, जिसके जरिए आप चैटिंग के दौरान आसानी से खरीदारी कर पाएंगे। आज से, भारत में लोग अपने कार्ट में आइटम जोड़ सकते हैं और भारत में चल रहे सभी यूपीआई ऐप्स के माध्यम से डेबिट और क्रेडिट कार्ड जैसे किसी भी पसंदीदा तरीके से भुगतान कर सकते हैं। हमें किसी भी चीज के लिए भुगतान करना मैसेज भेजने जितना आसान बनाने के लिए रेजरपे और पेयू के साथ साझेदारी करके खुशी हो रही है । UPI ऐप्स में अब गूगलपे, फोनपे, पेटीएम और बहुत कुछ शामिल हैं। पहले भी यूजर्स वॉट्सऐप पर इन ऐप्स के माध्यम से भुगतान कर सकते थे, लेकिन केवल वॉट्सऐप के बाहर रीडायरेक्ट होने के बाद।

वॉट्सऐप पे पर 10 करोड़ यूजर्स

विशेष रूप से, भारत में 500 मिलियन (50 करोड़) से अधिक वॉट्सऐप यूजर्स हैं, लेकिन वॉट्सऐप पे यूजर्स की संख्या केवल 100 मिलियन (10 करोड़) तक ही सीमित है।

कंपनी के अनुसार, यह कदम मेटा सीईओ मार्क जुकरबर्ग की बिजनेस मैसेजिंग की योजना में योगदान देता है जो कंपनी की बिक्री वृद्धि के लिए “अगला प्रमुख स्तंभ” बन जाएगा। वॉट्सऐप के एक प्रवक्ता ने कहा, “हालांकि भारत में वॉट्सऐप पे यूजर्स की संख्या सीमित रहेगी, लेकिन अन्य तरीकों का उपयोग करके वॉट्सऐप पर व्यवसायों के साथ लेनदेन करने की अनुमति वाले यूजर्स की संख्या पर ऐसी कोई सीमा नहीं है।”

अब तक, रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा संचालित ऑनलाइन ग्रॉसरी सर्विस JioMart और चेन्नई और बैंगलोर में मेट्रो सिस्टम भारत में वॉट्सऐप पर उपलब्ध एकमात्र एंड-टू-एंड शॉपिंग एक्सपीरियंस थे। पेमेंट के लिए अधिक ऑप्शन जोड़ने से प्लेटफ़ॉर्म पर बिजनेसेस को बढ़ावा मिलेगा।

एक अलग ब्लॉग पोस्ट में कहा गया है कि मेटा वैश्विक स्तर पर व्यवसायों के लिए अपने मेटा वेरिफाइड सब्सक्रिप्शन प्रोग्राम का भी विस्तार कर रहा है, जिससे कंपनियों को प्रामाणिकता को मान्य करने और यूजर्स की फीड में अपनी कंटेंट को बढ़ाने के लिए एक मैकेनिज्म मिल रहा है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »