12.3 C
London
Tuesday, June 18, 2024

असम राइफल्स से सेवानिवृत्त सूबेदार मेजर गुंज्याल के घर पहुँचने पर लोगो ने किया स्वागत

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोपूराम ख़बरी, रुद्रपुर। असम राइफल्स की 11वी बटालियन के सूबेदार मेजर शेर राम गंुज्याल की सेवानिवृत्ति के बाद घर पहुंचने पर शहरवासियों ने उनका जोरदार स्वागत किया। विधायक राजकुमार ठुकराल व भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौहान की अगुवाई में शहर के लोगों ने काशीपुर बाइपास रोड स्थित आर्य समाज इंटर कालेज से उनके आवास शांति विहार तक जुलूस निकाल कर उनका जोरदार खैरमखदम किया।
बता दें कि सूबेदार मेजर शेर राम गुंज्याल ने असम राइफल्स की 11वीं बटालियन में 30 मई 1980 को ज्वाइनिंग की थी। जिसके बाद वह अरूणाचल प्रदेश के त्रिपुरा, मणिपुर, नागालैंड, मेघालय के अलावा जम्मू कश्मीर में भी तैनात रहे। अपनी उत्कृष्ट सेवाओं के लिए उन्हें राष्ट्रपति द्वारा 15 अगस्त 2015 में पुलिस मेडल से सम्मानित भी किया गया। साथ ही 22 मार्च 2010 को राज्यपाल द्वारा उन्हें रजत पदक से भी सम्मानित किया जा चका है। जून 2017 में आइईडी ब्लास्ट में सूबेदार मेजर शेरराम गुंज्याल घायल भी हो गए थे। 31 अगस्त 2021 को असम से वह अपनी बटालियन से सेवानिवृत्त हुए। 3 सितंबर यानि शुक्रवार को जब वह अपने गृह जनपद रुद्रपुर पहुंचे तो उनके स्वागत में लोगो द्वारा ढोल नगाड़ों के साथ उनकी जोरदार अगवानी की गई।
इस अवसर पर विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा कि देश की सेवा में समर्पित रहने वाले देश के जवानों को जिनता भी सम्मान दिया जाए वह कम है। प्रत्येक देशवासी को देश की रक्षा में सीमा पर तैनात जवानों का सम्मान करना चाहिए।
भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौहान ने कहा जवानों पर हर देशवासी को गर्व है। उनकी बदौलत ही हमारी सीमाएं और देश के नागरिक सुरक्षित हैं। हम सभी देशवासियों को फर्ज है कि सीमा पर तैनात हर जवान का घर पहुंचने पर जोरदार ढंग से स्वागत करने के साथ ही उन्हें पूरा सम्मान भी देना चाहिए। इस मौके पर पार्षद सुशील चौहान, संजय ठुकराल, अमन पाठक, गणेश राम, एसआर गुंज्याल, सपन कुमार, विराट आर्य, संतोष कन्याल, प्रकाश राम, देवेंद्र अध्किारी, रोशन समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »