10.5 C
London
Sunday, April 14, 2024

ग्राम प्रीतनगर में हुए दोहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी को पुलिस ने 10 घंटे में पकड़ा

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,रूद्रपुर। ग्राम प्रीतनगर में हुए दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जिनकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल राइफल भी बरामद कर ली है। पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।
मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि ग्राम मलसी लंका निवासी गुरकीर्तन सिंह व गुरपेज सिंह अपने ग्राम प्रीत नगर स्थित खेतो में काम कर रहे थे। तभी प्रीतनगर निवासी राकेश मिश्रा ने लाइसेंसी राइफल से से खेत की मेड़ को लेकर उपजे विवाद में दोनो भाईयों को गोली मार दी थी। जिसमें दोनो भाईयों की मौत को गई थी। घटना के बाद मुख्य आरोपी वहां से फरार हो गया था। जिसके बाद आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की पांच टीमो के साथ एसओजी की टीम को भी लगाया गया था। टीम ने जानकारी जुटाते हुए मुख्य आरोपी की सुराग लगाकर उसे यूपी के बहेड़ी, जिला बरेली से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने घटना की बात कबूल कर लिया है। जिसकी निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल राइफल भी बरामद कर ली गई है। वही पुलिस को इस दौरान 10 जिंदा राइफल और हत्या के प्रयुक्त गोली के पांच खोखे भी बरामद किये है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि हत्या में इस्तेमाल राइफल मुख्य आरोपी राकेश मिश्रा के दरोगा भाई राजेश मिश्रा की लाइसेसी थी। जिस आम्र्स एक्ट में दरोगा राजेश मिश्रा के खिलाफ भी कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जा रही है।

एसएसपी कुंवर ने बताया कि मुख्य अरोपी के घर में 6 लाइसेंसी बंदूके है। जिसमें से मुख्य आरोपी राकेश मिश्रा के पास दो पिस्टल 25 बोर व एसबीएल 12 बोर और दरोगा भाई के पास रिवाल्वर 32 बोर व राइफल 315 बोर है। वही दोनो की पत्नियों के नाम भी डबल बैरल बंदूक है। यह सभी 6 बंदूके लाइसेंसी है। वही 6 लाइसेंसी बंदूके एक ही घर में होने की जांच बाद में की जाएंगी।
एसएसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी राकेश मिश्रा के दोनो लाइसेंसी बंदूक और हत्या में इस्तेमाल दरोगा राजेश मिश्रा की लाइंसेसी राइफल के निरस्तीकरण की कार्यवाही अमल में लाई जा रही है।

एसओजी प्रभारी कमलेश भट्ट ने बताया कि हत्या में प्रयुक्त लाइसेंसी राइफल घर के पास एक भूसे में छुपा कर रखी थी। जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने उसे भूसे के ढेर से बरामद कर ली है। आरोपी ने हत्या के बाद घर के पास उसे भूसे के ढेर में छुपा दिया था। जिसके बाद वह वहां से भाग यूपी की ओर भाग गया था।
एसओजी प्रभारी कमलेश भट्ट ने बताया कि मुख्य आरोपी राकेश मिश्रा हत्या के बाद गांव से छिपता छुपाता किच्छा होता हुआ बहेड़ी पहंुच गया था। जहां से वह यूपी की सीमा से होते हुए नेपाल भागने की फिराक में था। लेकिन पुलिस ने उसे पहले की दबोच लिया।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि तहरीर में वादी की ओर से चार लोगो के नाम दर्ज कराये गये थे। जिसमें मुख्य आरोपी राकेश मिश्रा और उसके दो भातिजो सहित एक अन्य का नाम शामिल था। विवेचना के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को बहेड़ी से गिरफ्तार कर लिया है। वही तहरीर में शामिल आरोपी के दोनो भातिजो को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है। उसके बाद उनके खिलाफ अग्रिम कार्यवाही की जाएंगी। वही मामले में आरोपी के दरोगा भाई राजेश मिश्रा की संलिप्ता की भी पुलिस जांच कर रही है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »