12.2 C
London
Sunday, April 14, 2024

हाथी दांत तस्करी कर ले जा रहे चार तस्करो को एसटीएफ की टीम ने पकड़ा,

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी, रूद्रपुर। एसटीएफ की कुमॉऊ युनिट ने हाथ तस्करी कर रहे चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके पास से 8 किलो के करीब एक अदद हाथी दांत बरामद सहित किये है। साथ ही हाथी दांत तस्करी में इस्तेमाल किये जाने वालो दो दोपहिया वाहनो को भी जब्त किया है। पकड़े गये हाथी दांत की कीमत अंर्तराष्ट्रीय बाजार में एक करोड़ रूपये आंकी गई है। वही वन्य जीव जन्तु व लकड़ी तस्करी इत्यादि में भी सक्रिय इन तस्करो को पकड़ने के लिए वन विभाग काफी समय से फिराक में था। वन्यु जीव जन्तुओ की तस्करी यह पड़ोसी राज्यों और नेपाल में किया करते थे। जिनसे पूछताछ में कुछ अन्य मामलो में भी खुलासा हो सकता है।

बता दे कि उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा वन्य जीव जन्तू के अंगो की अवैध तस्करी में लिप्त तस्करों के खिलाफ गिरफ्तारी अभियान चलाया जा रहा है। इस कार्यवाही में उत्तराखण्ड एसटीएफ की एक टीम लगातार उत्तराखण्ड के सीमावर्ती जनपदों में इन वन्य जीव जन्तूओं तथा इनके अंगो के अवैध तस्करों की तलाश में सक्रिय है। इसी क्रम में बुधवार को उत्तराखण्ड स्पेशल टास्क फोर्स को सूचना प्राप्त हुई कि जनपद उधम सिंह नगर के रुद्रपुर क्षेत्र में चार वन्य जीव जन्तू के अंगो के अन्तर्राष्ट्रीय तस्कर वन्य जीव जन्तू के अंगो की तस्करी करने की फिराक मे है। जिस पर तस्कारो को पकड़ने के लिए एसटीएफ की कुमॉऊ युनिट के प्रभारी निरीक्षक एमपी सिंह की अगुवाई में एक टीम का गठन किया गया।

एसटीएफ की टीम ने वाइल्डलाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो एवं तराई केंद्रीय वन प्रभाग रुद्रपुर टीम द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए रुद्रपुर स्थित काशीपुर रोड में बने फ्लाईओवर के नीचे से सूचना के अनुसार तस्करों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। कुछ देर बाद एक स्कूटी संख्या यूके06एवी6151 व एक मोटरसाइकिल संख्या यूके06टी5427 पर चार लोग आते हुए दिखाई दिये। टीम को देखकर यह लोग घबरा गये और अपने दोपहिया वाहनो को मोड़कर भागने का प्रयास करने लगे। लेकिन टीम ने उन्हे धर दबोच लिया। पूछताछ में उन्होने अपना नाम श्रवण कुमार पुत्र महेश कुमार निवासी गूलरभोज थाना गदरपुर, ऋषि कुमार पुत्र तिलकूराम निवासी आदर्श नगर धनपुर थाना गदरपुर, सुरजीत उर्फ पुली पुत्र रूपकिशोर निवासी नई बस्ती गूलरभोज थाना गदरपुर और शमशेर सिंह पुत्र जुम्मन सिंह निवासी पढ़किया गूलरभोज थाना गदरपुर बताया। तलाशी लेने पर टीम को उनके पास से एक हाथी दांत लगभग 8 किलो वजन का बरामद हुआ। टीम उन्हेे हाथी दांत और दोपहिया वाहन सहित गिरफ्तार कर अपने साथ ले आई और उनके विरुद्ध तराई केंद्रीय वन प्रभाग रुद्रपुर में वन्य जीव जन्तू संरक्षण अधिनियम की सम्बन्धित धाराओं का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वही टीम उनसे पूछताछ कर रही है।

एसटीएफ, कुमांऊ यूनिट प्रभारी एमपी सिंह ने बताया कि पकड़े गये तस्करो ने पूछताछ में बताया कि यह हाथी दांत पढ़किया पीपल पड़ाव केंद्रीय वन प्रभाग रुद्रपुर के जंगल से लाया गया है और यह हाथी दांत करीब 2 माह पुराना है। उन्होने बताया कि तस्करों को दो माह पहले पीपल पड़ाव जंगल में एक हाथी मरा हुआ मिला था। जिसके दांत उन्होने काट लिये थे और वही जंगल में छिपाकर रख दिये थे। जिसे आज बेचने की फिराक में वह वहां से लाये थे। उन्होने बताया कि हाथी दांत की कीमत अंर्तराष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब एक करोड़ रूपये है।

एसटीएफ, कुमांऊ यूनिट प्रभारी एमपी सिंह ने बताया कि पकड़े गये तस्करो के अपराधिक इतिहासो को ख्ंागाला जा रहा है। जिसमें अभी एक तस्कर सुरजीत के खिलाफ आम्र्स एक्ट और अपहरण के मामले में थाना केलाखेड़ा में मुकदमा दर्ज है। वही अन्य की जांच की जा रही है। बताया कि यह तस्कर पिछले काफी समय से वन्य जीव जन्तु और लकड़ी तस्करी में लिप्त है। जिसकी वजह से वन विभाग इन्हे पकड़ने के लिए काफी समय से इनकी फिराक में था।

एसटीएफ, कुमांऊ यूनिट प्रभारी एमपी सिंह ने बताया कि हाथी दांत लाने की जो जगह इन्होने बताई है उसकी तफ्तीश के लिए वन विभाग की टीम रवाना हो गई है। साथ ही वह टीम हाथी मरा मिला या मारा गया इसकी भी जांच करेगी। फिलहाल उनको रिमांड पर लेकर अन्य तस्करी से संबंधित मामलो में भी पूछताछ की जाएंगी। जिसके बाद कुछ अन्य खुलासे भी हो सकते है।

उत्तराखण्ड के ऊधमसिंह नगर के जंगलो से यह तस्कर वन्य जीव जन्तु के अंगो की अवैध तस्करी कर पड़ोसी राज्यो और नेपाल में बेचा करते थे। जहां इन्हे उनके अच्छे दाम मिलते थे।हाथी दांत तस्करो को गिरफ्तार करने वाली टीम में एसटीएफ, कुमाँयू युनिट के प्रभारी निरीक्षक एमपी सिंह, उप निरीक्षक केजी मठपाल व बृजभूषण पुरानी, का. महेन्द्र गिरी, किशोर कुमार, गोविन्द सिंह, दुर्गा सिंह पापड़ा, गुरवंत सिंह, चंद्रशेखर मल्होत्रा, प्रमोद रौतेला, सुरेंद्र कनवाल और वन विभाग की ओर से वन दरोगा दुर्गादत्त मलकानी, वन आरक्षी नवल किशोर एवं सुरेंद्र सिंह शामिल थे।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »