13.1 C
London
Wednesday, May 29, 2024

हिंडनबर्ग-अडानी विवाद से हिला भारत, दुनिया के पांच शीर्ष बाजारों से हुआ बाहर

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। हिंडनबर्ग रिसर्च की एक रिपोर्ट में अडानी ग्रुप पर कई बड़े आरोप लगाए गए हैं। इसके बाद से ही शेयर बाजार में हलचल है। यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई जब अडानी एंटरप्राइजेज का एफपीओ लॉन्च हो रहा था।

बीते कुछ दिनों में गौतम अडानी समूह-Hindenburg के विवाद की वजह से भारतीय शेयर बाजार को भारी नुकसान हुआ है। इस माहौल के बीच मार्केट कैपिटल के लिहाज से भारत दुनिया के टॉप 5 देशों की सूची से बाहर हो गया है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को भारत, फ्रांस से नीचे छठवें स्थान पर आ गया। इसका मार्केट कैप 3.2 ट्रिलियन डॉलर पर था। वहीं, ब्रिटेन सातवें स्थान पर बरकरार था। भारत और ब्रिटेन के बीच $100 बिलियन से थोड़ा अधिक अंतर रह गया है। रिपोर्ट के मुताबिक लगातार चार कारोबारी दिन शेयरों में गिरावट की वजह से अडानी समूह की इकाइयों को 75 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है। पर आपको बता दें कि हिंडनबर्ग रिसर्च की एक रिपोर्ट में अडानी ग्रुण कई बड़े आरोप लगाए गए हैं। इसके बाद से ही शेयर बाजार में हलचल है। यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई जब अडानी समूह की कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज का एफपीओ लॉन्च हो रहा था।

शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक 20,000 करोड़ रुपये के एफपीओ को मंगलवार को इश्यू के आखिरी दिन निवेशकों का समर्थन मिला जिनमें कुछ साथी उद्योगपतियों की पारिवारिक कंपनियां और गैर-खुदरा निवेशक शामिल हैं। आंकड़ों के मुताबिक एफपीओ के तहत की गई 4.55 करोड़ शेयरों की पेशकश के मुकाबले 4.62 करोड़ शेयरों की मांग निवेशकों की तरफ से की गई।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »