30.6 C
London
Friday, July 19, 2024

यहां उधार के पैसे मांगने पर ठेकेदार ने मेडिकल स्टोर में घुसकर दिखाई दबंगई

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। जिले का मुख्यालय रुद्रपुर अब बेखौफ आपराधियो का अड्डा बन चुका है, रोजाना यहां दिनदहाड़े गोलीबाजी, मारपीट जैसी घटनाएं तुल पकड़ चुकी है,

और अगर बात करें रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप की तो लगातार मर्डर, लूट, चोरी, और खुलेआम मारपीट की घटनाएं देखने को मिल रही है, कहने को जिले की पुलिस अपराधों पर काबू पाने की न जाने कितने ही दावे क्यों न कर ले पर सच यही है की बदमाश, हों या अपराध करने वाला व्यक्ति इन सभी के मन से पुलिस के प्रति डर राहा ही नहीं जिसका साफ सुथरा उदाहरण आपको बताने जा रहें हैं, बता दें की बीते कई दिनों से ट्रांजिट कैंप से आपराधिक घटनाएं सामने आ रही है, और अपने तमाम दावे करने वाली की पुलिस जो की अपराध पर काबू पाने के बहुत से दावे करती है, लेकिन साफ तौर पर उधमसिंहनगर जिले में बदमाश बेखौफ तो हो ही चुके और पुलिस का डर भी खत्म हो गया है,

ताजा मामला आपको बता दें की वार्ड न0-01 जनपद रोड फुलसुंगा थाना ट्रांजिट कैम्प में मुनीराज सैनी ने बताया की वह किराये पर रहता, उसका एक खुशी फॉर्मेसी के नाम से मेडिकल है जिसमें से कि उक्त ठेकेदार कुलदीप ठाकुर गोकुलधाम कॉलोनी फुलसुंगा ने अपनी व अपने मजदुरो कि 5, 6 माह से उधार दवा ले रहा था उक्त ने पीड़ित से अब तक 9,236 रू0 का उधार कर चुका है। मुनिराज ने कुलदीप से जब भी अपने पैसे मांगता था तो कुलदीप कुछ दिन में पैसे देने को टाल देता है जिससे चलतें दिनांक-13/09/2023 को रात लगभग 09:00 बजे वह अपने मेडिकल में बैठा उसी बीच उक्त कुलदीप व रवी, प्रवेश और 34 अज्ञात लड़को को उसके मेडिकल में ले आया और गंदी गंदी गालियां देते हुऐ उसके मेडिकल में घुसकर बुरी तरह मारने पीटने लगे और जान से मारने कि धमकी देने लगा, उसने कहा की 112 पर कॉल करके पुलिस को सूचित किया पर अभियुक्तों उसे दुबारा पैसे मांगने पर जान से मारने कि धमकी देकर भाग गए। मार पीट के दौरान पीड़ित मुनिराज को सिर व आँख पर गुम चोट व हाथ पैर पर काफी चोट आई है।

अब इस से साफ तौर पर यह कह सकते है की रुद्रपुर शहर जो की उधमसिंहनगर का मुख्यालय है, यहां पुलिस का खौफ खत्म हो चुका है, और अपराधी के हौसले बुलंद हो गए है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »