14.7 C
London
Sunday, June 16, 2024

मौसम की बेमानी, किसानों को पड़ी ओलों की मार खराब हुई फसल

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी।  मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में राज्य के नैनीताल उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ़ और देहरादून के पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना जताई है।

नैनीताल सहित ओखलकांडा में दोपहर बाद मौसम ने करवट बदली। ये फोटो ओखलकांडा के दूरस्थ क्षेत्र राजकीय इंटर कॉलेज ढोलीगांव का है ।भारी वर्षा के साथ ओलावृष्टि भी हुई बारिश होने से पहाड़ी इलाकों में ठंड बढ़ गई है।

नैनीताल के ओखलकांडा और धारी रामगढ़ क्षेत्र में तेज ओलावृष्टि से किसानों के खेतों में लगी फसलों और फलों को बेहद नुकसान पहुंचा है। किसानों के खेतों में लगी मटर, आलू, गेहूं, धनिया की फसलों समेत आडू, खुमानी, पूलम, कागजी नींबू और माल्टे के पेड़ों पर लगे फूल झड़कर नष्ट हो गए। बता दें कि अगले चार दिन उत्तराखंड के पर्वतीय जनपदों में हल्की से मध्यम बारिश और अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी की संभावना है। जनपद देहरादून में भी बादल छाए रहेंगे। कुछ स्थानों पर गर्जन के साथ बारिश होने की संभावना है।

पर्यटक नैनीताल में ठंड से कांपे, आग का लेना पड़ रहा सहारा

कल से हो रही बारिश और ओलावृष्टि से नैनीताल में ठंड बढ़ गयी है। देश भर से आये पर्यटकों को ठंड सताने लगी है तो पर्यटक ठंड से बचने के लिए गर्म कपड़े खरीद रहे हैं। वहीं स्थानीय लोगों के लिए आग का सहारा बना हुआ है। नैनीताल मोहनको और आयरपाटा में लोग आग जलाकर ठंड से राहत ले रहे हैं। मई महीने में पड़ रही नैनीताल के ठंड पर दिल्ली के पर्यटक अप्पी और सुनील ने कहा कि वो दिल्ली के एसी चला रहे थे लेकिन एकदम मौसम बदलने से गर्म कपड़े खरीदने पड़ रहे हैं। वहीं स्थानीय मथुरा दत्त पांडे ने कहा कि 1971 के बाद ऐसा पहला मौका है कि मई महीने में इस कदर ठंड पड़ रही है जैकेट स्वेटर के साथ रजाई निकालनी पड़ गयी है लग रहा है मौसम चक्र बदल रहा है। वहीं विजय साह ने कहा कि जो बारिश सर्दी में होनी चाहिए थी वो अब हो रही है जिससे मई में ठंड हो रही है क्योंकि जनवरी फरवरी में बारिश और स्नोफॉल नहीं हुआ अब बारिश हो रही है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »