8.1 C
London
Monday, April 15, 2024

माइक्रोमैक्स श्रमिकों की कंपनी गेट पर बैठक, कार्य बहाली की मांग

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,रुद्रपुर। भगवती प्रोडक्ट्स लिमिटेड माइक्रोमैक्स के प्रबंधन द्वारा तथाकथित रूप से गैर कानूनी छंटनी और ले ऑफ को लेकर श्रमिकों की कंपनी गेट पर महत्वपूर्ण बैठक हुई जिसमें श्रमिकों की कार्य बहाली में लगातार हो रहे विलंब पर रोष प्रकट किया गया। श्रमिकों ने कहा कि प्रबंधन द्वारा 47 ले ऑफ श्रमिकों को बगैर कंपनी खोले मनमाने तरीके से कंपनी गेट पर हाजिरी लगाने के लिए बुलाकर और उनसे इस्तीफा देने की मांग करना घोर निंदनीय है और श्रमिक इसका पूरा विरोध कर रहे हैं। इस संबंध में श्रमिकों ने श्रम अधिकारियों और जिला प्रशासन को पत्र भेजकर अपनी शिकायत दर्ज कराई है।

उल्लेखनीय है कि 27 दिसंबर 2018 से 303 श्रमिकों की छंटनी को औद्योगिक न्यायाधिकरण अवैध घोषित कर चुका है और उच्च न्यायालय ने भी इसके परिपालन का आदेश दिया है। इसके बावजूद श्रमिकों की कार्य बहाली नहीं हो रही है। दूसरी तरफ गैरकानूनी ले ऑफ द्वारा श्रमिकों का उत्पीड़न लगातार जारी है। आरोप है कि उत्पीड़न के लिए प्रबंधन ने श्रमिकों के मिलने वाली आधे वेतन को मनमाने तरीके से चौथाई वेतन में बदल दिया और अब प्रबंधन एक नए हथकंडे के तहत श्रमिकों को कंपनी गेट पर प्रतिदिन आकर हस्ताक्षर लगाने का फरमान जारी कर चुका है जो कि गैर कानूनी है। प्रबंधन इस बहाने हस्ताक्षर करने आने वाले श्रमिकों पर कारखाना प्रबंधक श्रमिकों पर हिसाब लेने का दबाव बना रहे हैं। श्रमिकों ने श्रम विभाग से इस पर कार्यवाही करने का अनुरोध किया है।

श्रमिकों ने बताया कि कोरोना महामारी के विकट समय में श्रमिक संयुक्त मोर्चा के सुझाव पर 10 अप्रैल से उन्होंने धरना स्थगित किया था लेकिन प्रशासन और श्रम विभाग इसके बावजूद कोई भी सुध नहीं ले रहा है। श्रमिक प्रतिनिधियों ने छँटनी व ले ऑफ सहित समस्त पीड़ित 351 श्रमिकों की तत्काल कार्य बहाली की माँग बुलंद की और कहा कि यदि ऐसा नहीं होगा तो उनका धरना और आंदोलन फिर से शुरू होगा और व्यापक प्रतिरोध किया जाएगा।

बैठक में मुकेश जोशी, भुवन चंद्र जोशी, अफजाल हुसैन, चंद्र प्रकाश, सतेंद्र सिंह, भूपेंद्र सिंह, याकूब हुसैन, वंदना बिष्ट, दीपक सनवाल, नंदन सिंह, ठाकुर सिंह, दीपक पंत, हेम जोशी, सूरज बोहरा, गोपाल कृष्ण भट्ट, मनोज पांडे, आदि थे।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »