2 C
London
Monday, March 4, 2024

महिला कांस्टेबल पर हमला करने वाला आरोपी एनकाउंटर में ढेर

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। चलती ट्रेन पर महिला कांस्टेबल से छेड़खानी करने और विरोध करने पर उनके सिर को बुरी तरह से लहूलुहान कर देने का आरोपी हमलावर शुक्रवार को पुलिस मुठभेड़ में मारा गया। महिला कांस्टेबल 30 अगस्त को अयोध्या रेलवे स्टेशन पर सरयू एक्सप्रेस के एक डिब्बे में खून से लथपथ मिली थीं।

अयोध्या के पूरा कलंदर में शुक्रवार की सुबह मुठभेड़ हुई थी। जहां मुख्य आरोपी अनीस और उसके साथियों को पुलिस ने पकड़ने की कोशिश की तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी। बचाव में पुलिस ने क्रास फायरिंग की तो मुख्य आरोपी अनीस मौके पर ढेर हो गया। मुठभेड़ में थानाध्यक्ष पूरा कलंदर घायल हो गये। उसके दो साथियों आजाद और विशंभर दयाल उर्फ लल्लू को को पुलिस ने इनायत नगर से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस कार्रवाई में वे दोनों भी घायल हो गये हैं।

महिला कांस्टेबल ने छेड़छाड़ का जमकर विरोध किया था

पुलिस के मुताबिक अनीस मुख्य आरोपी था। उसी ने छेड़छाड़ की थी। महिला कांस्टेबल ने उनका डटकर सामना करते हुए उसको उठाकर पटक दिया था। इससे तीनों आरोपियों ने महिला कांस्टेबल पर जानलेवा हमला करके सिर को ट्रेन की खिड़की पर पटक कर बुरी तरह लहूलुहान कर दिया था। यह घटना 30 अगस्त को हुई थी।

अयोध्या के पूरा कलंदर क्षेत्र में हुई थी मुठभेड़

यूपी पुलिस स्पेशल डीजी (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा, ‘सरयू एक्सप्रेस में सवार महिला कांस्टेबल पर हमले के मुख्य आरोपी को पुलिस ने अयोध्या के पूरा कलंदर में मुठभेड़ में मार गिराया। उसके दो साथ एक इनायत नगर में एक अन्य मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिये गये हैं।’

महिला कांस्टेबल अयोध्या स्टेशन पर 30 अगस्त को सरयू एक्सप्रेस में बेहोशी की अवस्था में मिली थीं। उनका चेहरे पर धारदार हथियार से हमला किया गया था। उनकी खोपड़ी में दो फ्रैक्चर हुए थे। पुलिस अफसरों के मुताबिक मुठभेड़ में मारा गया अनीस महिला कांस्टेबल से जबरन मिलने कोशिश कर रहा था। जब उन्होंने इनकार कर दिया तो तो अनीस और उसके दो सहयोगियों ने अचानक हमला कर दिया। ट्रेन की खिड़की पर उनका सिर पटकने पर वह गंभीर रूप से घायल हो गईं। अयोध्या से पहले जब ट्रेन धीमी हुई तो तीनों बदमाश भाग निकले।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »