13.1 C
London
Wednesday, May 29, 2024

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में दो गैर कश्मीरी मजदूरों को गोली मारी, पांच दिन के अंदर दूसरा हमला

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर टारगेट किलिंग ने जोर पकड़ा है। घाटी में गैर-कश्मीरी मजदूरों को आतंकियों ने निशाना बनाया है। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने दो बाहरी मजदूरों पर फायरिंग की, जिसमें दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी हालत स्थिर है। जानकारी के मुताबिक ये दोनों एक ज्वेलरी शॉप पर काम करते हैं और महाराष्ट्र के रहने वाले हैं। वहीं घटना के बाद आतंकियों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

आतंकियों ने इस साल अब तक किए चार हमले

गौरतलब है कि इस साल कश्मीर में गैर-स्थानीय लोगों और अल्पसंख्यकों पर ये चौथा हमला था और पिछले पांच दिन में दूसरा हमला है। इस साल सबसे पहले 26 फरवरी को दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के अचेन में एक बैंक में सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करने वाले एक कश्मीरी पंडित की आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके तीन महीने बाद 29 मई को, उधमपुर निवासी दीपू, जो एक मनोरंजन पार्क में एक निजी सर्कस मेले में काम कर रहा था। उसकी अनंतनाग शहर में जीलैंड मंडी के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके बाद 13 जुलाई को आतंकियों ने शोपियां जिले के गगरान इलाके में घर में घुसकर बिहार के तीन मजदूरों को गोली मार दी थी, जिनकी पहचान अनमोल कुमार, पिंटू कुमार ठाकुर और हीरालाल यादव के रूप में हुई थी और ये सभी जिला सुपौल, बिहार के रहने वाले थे और 18 जुलाई को ये चौथी घटना है जब आतंकियों ने ये कायराना हरकत की है।

सुरक्षा बलों ने चार आतंकवादी मार गिराए

वहीं इससे पहले जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मंगलवार को चार आतंकवादियों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि सेना और पुलिस ने सोमवार रात सुरनकोट के सिंधरा टॉप इलाके में एक संयुक्त अभियान चलाया, जिसके बाद मुठभेड़ छिड़ गई। जम्मू क्षेत्र के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुकेश सिंह ने बताया कि मंगलवार तड़के करीब पांच बजे मुठभेड़ फिर से शुरू हुई, जिसमें चार आतंकवादी मारे गए। ‘व्हाइट नाइट कॉर्प्स’ ने ट्वीट किया, ‘‘ऑपरेशन त्रिनेत्र-2। खुफिया जानकारी के आधार पर घेराबंदी की गई और बड़ा तलाश अभियान चलाया गया। पुंछ जिले की सुरनकोट तहसील के सिंधरा और मैदाना गांवों के पास भारतीय थल सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक संयुक्त अभियान में चार आतंकवादी मारे गए

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »