13.1 C
London
Wednesday, May 29, 2024

एसटीएफ ने हेली सेवा के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी।  केदानाथ धाम दर्शन के लिए हेली सेवा के नाम पर श्रद्धालुओं से साइबर ठगी करने वाले गिरोह का एसटीएफ ने भंडाफोड़ किया है। मामले में गिरोह के सरगना को एसटीएफ ने नवादा बिहार से गिरफ्तार कर लिया। ठग के खिलाफ देश के अलग- अलग थानों में 21 साइबर ठगी की शिकायतें दर्ज हैं।

गिरोह के दो सदस्य सन्नी राज निवासी ग्राम मोहब्बतपुर, पोस्ट पन्हेसा, थाना शेखोपुर सराय, जनपद शेखपुरा, बिहार और बाबी रविदास निवासी ग्राम मोहब्बतपुर, पोस्ट पन्हेसा, थाना शेखोपुर सराय, जनपद शेखपुरा, बिहार को एसटीएफ ने कुछ समय पहले ही गिरफ्तार किया था।पूछताछ में पता चला है कि आरोपित को दिसंबर वर्ष 2021 में कोतवाली जयपुर राजस्थान पुलिस ने जेल भेजा था। ठग फोन पर लड़की बनकर लोगों को ठगता था। बता दें वर्तमान समय में उत्तराखण्ड राज्य में चारधाम यात्रा प्रचलित है, जिस कारण विभिन्न राज्यों से श्रधालुओं द्वारा श्री केदानाथ धाम दर्शन हेतु हैलीकॉप्टर सेवा प्राप्त करने हेतु ऑनलाईन टिकट बुक करवाये जा रहे है।

साईबर अपराधियों द्वारा भी साईबर अपराध करने हेतु समय के साथ-साथ धोखाधड़ी करने हेतु नये-नये तरीके अपनायें जाते रहे हैं व चारधाम यात्रा हेतु हैली सेवा ऑनलाईन टिकट बुकिंग के नाम पर भी देश के विभिन्न राज्यों से हैली सेवा टिकट ऑनलाईन बुक करवाने वालों के साथ भी साईबर ठगी की जा रही है। मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड के निर्देशो के क्रम में प्रदेश के निवासियों को साइबर अपराधियों द्वारा जनता से ठगी करने वालो पर सख्त कार्यवाही कर पुलिस महानिदेशक द्वारा एसटीएफ व साइबर पुलिस को प्रभावी कार्यवाही हेतु दिशा निर्देश दिये गये थे। शिकायतों की प्रारंभिक जांच सब इंस्पेक्टर आशीष गुसाईं द्वारा की गई उन्होंने हेली धोखाधड़ी की सभी शिकायतें एकत्र कीं। सब इंस्पेक्टर आशीष ने पूरे भारत में सैकड़ों लोगों को बचाने के लिए 41 वेबसाइटें भी ब्लॉक करवा दीं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल के निर्देशन में अभियोग का सफल निस्तारण हेतु पुलिस टीम गठित की गई जिस पर पुलिस टीम हैली सेवा के नाम पर देश भर में धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के दो सदस्यों सन्नी राज पुत्र उमेश दास निवासी ग्राम मोहब्बतपुर, पोस्ट पन्हेसा, थाना शेखोपुर सराय, जनपद शेखपुरा, बिहार,बॉबी रविदास पुत्र उमेश दास निवासी ग्राम मोहब्बतपुर, पोस्ट पन्हेसा, थाना शेखोपुर सराय, जनपद शेखपुरा, बिहार को गैर राज्य बिहार के जिला शेखपुरा से गिरफ्तार किया था। गिरोह के मुख्य सरगना नीरज कुमार पुत्र अवधेश प्रसाद निवासी ग्राम पोक्सी, पो0आ0 केसोरी, थाना पकरीबरवां, जनपद नवादा, बिहार की तलाश की जा रही थी। उसे भी पुलिस टीम ने बिहार के जनपद नवादा से गिरफ्तार कर लिया है। सरगना द्वारा विभिन्न फर्जी वेबसाईट्स बनाकर, मोबाईल नम्बरों, मोबाईल हैण्डसैटों व बैंक खातों का प्रयोग कर स्वयं को पवनहंस हैली सर्विस का कर्मचारी दर्शाकर, पीड़ितों के व्हट्सएप पर सम्पर्क स्थापित कर कई लोगों से धोखाधड़ी की गयी थी। सरगना द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर पूरे भारत में हैली सेवा के नाम पर अपराध करने के लिए अलग-अलग मोबाईल फोन, सिमकार्डाे व बैंक खातों का इस्तेमाल किया गया।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »