14.7 C
London
Sunday, June 16, 2024

एसटीएफ ने दबोचा तेरह साल से फरार दस हजार का इनामी बदमाश

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी, उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा ईनामी अपराधियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है । इसी अभियान के चलते एसएसपी एसटीएफ, उत्तराखण्ड द्वारा 10,000/- रुपये के ईनामी अपराधी महेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी हेतु निरीक्षक अबुल कलाम गढ़वाल परिक्षेत्र तथा निरीक्षक एमपी सिंह कुमाऊँ परिक्षेत्र के नेतृत्व में एसटीएफ की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया। उक्त टीम द्वारा करीब एक सप्ताह तक रामनगर, केलाखेड़ा, नानकमत्ता, भरतपुर राजस्थान तथा पानीपत हरियाणा में जाकर कार्य किया गया तथा एक सप्ताह के कठिन मेहनत के उपरान्त उक्त टीम द्वारा आज  प्रातः रक्सेड़ा, थाना समालखा, जनपद पानीपत, हरियाणा राज्य से ईनामी अपराधी महेन्द्र सिंह उर्फ राजू पुत्र दलीप सिंह, निवासी ग्राम गेबुआ बरायल, थाना रामनगर, जिला नैनीताल को गिरफ्तार किया गया।

विदित हो कि वर्ष 2008 में उक्त ईनामी महेन्द्र सिंह द्वारा अपने पिता दलीप सिंह के साथ मिलकर थाना रामनगर क्षेत्रान्तर्गत कालू पुत्र भीम बहादुर की तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और घटना के तुरन्त बाद दोनों हत्यारोपी पिता-पुत्र मौके से फरार हो गये थे और आज तक गिरफ्तार नहीं हो पाये थे । फरारी के दौरान हत्यारोपी दलीप सिंह की मृत्यु हो चुकी है । घटना की रिपोर्ट वादी ओंकार सिंह पुत्र छिन्दर सिंह, निवासी गेबुआ बरायल द्वारा थाना रामनगर में 202/2008 धारा 302,341,323 भादवि पंजीकृत करायी गई थी। तब से आज तक हत्या आरोपी महेन्द्र सिंह दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान आदि राज्यों में छिपकर रह रहा था।

एसएसपी एसटीएफ द्वारा बताया गया कि बताया गया कि 13 वर्षों से फरार हत्या के आरोपी महेन्द्र सिंह की फोटो व अन्य कोई पहचान पुलिस के पास नहीं थी। जिसकी गिरफ्तारी करना एसटीएफ के लिए एक बड़ी चुनौती थी, क्योंकि इसके पिता दलीप सिंह की मृत्यु भी बिना गिरफ्तारी हुये फरारी के दौरान हो चुकी थी। अभी तक पुलिस इस हत्याकांड के किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पायी थी । डा पूर्णिमा गर्ग, पुलिस उपाधीक्षक एसटीएफ के कुशल पर्यवेक्षण में उत्तराखण्ड एसटीएफ की दोनों टीमों द्वारा तकनीक व सुरागरसी पतारसी का बेहतर तालमेल रखते हुए ईनामी अपराधी महेन्द्र सिंह को गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ ईनामी अपराधियों के विरूद्व अभियान आगे भी जारी रखेगी ।

एसटीएफ टीम ने उप निरीक्षक यादविन्दर सिंह बाजवा,उप निरीक्षक बृजभूषण गुरुरानी (कुमाऊं यूनिट) प्रकाश चन्द्र भगत (कुमाऊं यूनिट)वेद प्रकाश भट्ट, महेन्द्र गिरी (कुमाऊं यूनिट)आरक्षी लोकेन्द्र सिंह, गुरवन्त सिंह,महेन्द्र सिंह मौजूद थे।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »