3.4 C
London
Tuesday, February 27, 2024

एक और खालिस्तानी समर्थक की Canada” में हत्या

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी।खालिस्तानी आतंकी से जुड़ी बड़ी ख़बर आपको बता दें की, कनाडा में एक और खालिस्तानी समर्थक की हत्या कर दी गई है, कनाडा में रहने वाले आतंकी सुखदूल सिंह की अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। गैंगस्टर गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने बंबीहा गैंग के गैंगस्टर सुक्खा दुनोके (सुखदूल) के कत्ल की जिम्मेदारी ली है, जिन लोगों ने सुखदूल को गोली मारी उनकी पहचान नहीं की जा सकी है, बताया जा रहा है कि आतंकी सुखदूल NIA की वॉन्डेट लिस्ट में शामिल था, उसके ऊपर आरोप लगे थे कि वह खालिस्तानी आतंकियों की मदद करता था, सुखदूल पंजाब के मोगा का रहने वाला था. वह 2017 में पंजाब से भागकर कनाडा पहुंचा था. सुखदूल को खालिस्तानी आतंकी अर्शदीप सिंह का करीबी माना जाता है।

आपको बता दें की कुछ ही दिनों पहले कनाडा में खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या कर दी गई थी, इसको लेकर भारत और कनाडा के बीच रिश्ते भी खराब होते जा रहे हैं, सुखदूल की हत्या भी निज्जर के जैसी ही हुई है, रिपोर्ट्स के मुताबिक साल 2017 में सुखदूल फर्जी दस्तावेजों की मदद से भारत से कनाडा भाग गया था।

आतंकी सुखदूल के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। कानून से बचने के लिए वह भारत छोड़कर कनाडा में शरण लेने के लिए पहुंच गया था, सुखदूल पर यह भी आरोप लगे थे उसने फर्जी पासपोर्ट बनवाए थे जिसके सहारे वह भारत से भागा था। सुखदूल पर खालिस्तानियों को मदद पहुंचाने के भी आरोप लगे थे। सुखदूल सिंह का संबंध मोस्ट वांटेड बंबीहा गैंग से था जो राष्ट्रीय जांच एजेंसी के रडार पर है, NIA ने 20 सितंबर को अर्श डल्ला गैंग पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। इसके अलावा जांच एजेंसी ने 43 गैंगस्टर्स के साथ सुखदूल फ़ोटो भी जारी की गई थी।

खालिस्तानी आतंकी निज्जर की भी मौत

कनाडा में पिछले महीने ही खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की भी गोली मार के हत्या कर दी गई थी. शहर के गुरुद्वारे के पास अज्ञात युवक ने निज्जर को गोली मारी थी. इसे लेकर कनाडा ने भारत पर तीखी टिप्पणी की थी और आरोप लगाए थे कि निज्जर की हत्या के पीछे भारत का हाथ हैं. इस घटना की प्रतिक्रिया में कनाडा ने भारतीय राजनयिक को निकाल दिया था. भारत ने भी जवाबी कार्यवाही करते हुए कनाडाई राजनयिक को निकलने के आदेश दिए।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »