11.3 C
London
Monday, March 4, 2024

इस मामले में गणेश ने किया वार तो महेंद्र ने किया पलटवार

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी। कांग्रेस पार्टी के पूर्व पीसीसी के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने प्रेस वार्ता करते हुए सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने अंकित भंडारी को न्याय दिलाने के लिए महिला कांग्रेस की ओर से किए गए प्रदर्शन पर पीठ थपथपाई। वहीं उन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट की ओर से महिलाओं के सिर मुंडवाने को लेकर उठाए गए सवालों का जवाब में पलट वार करते हुए कहा कि महेंद्र भट्ट को सुषमा स्वराज के उसे बयान को भी याद करना चाहिए।

जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रही सोनिया गांधी के लिए कहा था कि यदि सोनिया गांधी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे तो वह अपना सर मुंडवा देंगी, ऐसे में सोनिया गांधी ने बड़ा दिल दिखाते हुए एक महिला की भावनाओं का आदर करते हुए प्रधानमंत्री पद की शपथ नहीं ली। उन्होंने कहा कि अंकित भंडारी को न्याय दिलाने के लिए अभी तो कांग्रेस की दो बहनों ने ही केश दान किए हैं, लेकिन अंकित हत्याकांड में वीआईपी का नाम उजागर किए जाने की मांग को लेकर कांग्रेस पार्टी आगामी दिनों में बड़े पैमाने पर केश दान करेगी। उन्होंने कहा कि यदि अंकिता को न्याय नहीं मिला तो बड़ी संख्या में कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता व महिलाएं अपना सर मुंडवा कर सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज कराएंगे।

भाजपा अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने कहा कि अगर कांग्रेस राज्य के विकास की अपेक्षा के साथ भाजपा को केशदान कर रही है तो हम इसे सहज स्वीकार करते है।

पार्टी मुख्यालय मे पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल के बयान पर पलटवार करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का स्वरचित वैदिक ज्ञान के आधार पर महिला कांग्रेस की बहिनों के बाल मुंडवाने पर सफ़ाई देना कांग्रेस द्वारा किए गये पाप को धोने का कुप्रयास है ।

भट्ट ने कहा कि

” यत्र नार्यस्तू पूज्यंते रमते तत्र देवता” मे नारी सम्मान का भाव है, लेकिन चौराहे पर बहिनों को केश कटवाने के लिए प्रेरित करने पर वे इस श्लोक के किस संदेश का उदाहरण दे रहें हैं ।

यह नारी शक्ति का अपमान है। उन्होंने कहा कि कौरवों की सेना के बीच में घोर अपमान होने के बाद भी द्रोपदी ने केश नही कटवाए, बल्कि उसके शरीर और बालों को छूने वाले कि मृत्यु होने के बाद ही श्रृंगार का संकल्प लिया और बाल नही कटवाए थे।

 

 

 

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »