11.8 C
London
Saturday, April 13, 2024

इंदौर में 36 मौतों के बाद प्रशासन ने तोड़ा मंदिर, सड़कों पर उतरे लोग

- Advertisement -spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

भोंपूराम खबरी,इंदौर। इंदौर के बालेश्वर महादेव मंदिर में दिल दहला देने वाले हादसे के बाद प्रशासन ने बावड़ी ही नहीं पूरे मंदिर को ही ध्वस्त कर दिया था। इसके विरोध में शुक्रवार को रहवासी सड़क पर उतर आए। मंदिर के आसपास के रहवासी जयश्री राम के नारे लगाते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। आधे दिन के लिए बाजार भी बंद रखा गया। अब महज 7 दिन बाद उसी जगह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh) ने दोबारा मंदिर बनाने की घोषणा कर दी है।

नगर निगम द्वारा तोड़े गए मंदिर का विरोध होने लगा था। शुक्रवार सुबह 9 बजे बड़ी संख्या में क्षेत्र के रहवासी और व्यवसायी लोग इकट्ठा होकर प्रदर्शन करने लगे। इतना ही नहीं मंदिर वापस उसी जगह पर बनवाने की मांग भी कलेक्टर से की। विरोध तेज होते ही प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान आया है। उन्होंने बोला है कि मंदिर वहीं पर बनेगा।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि, इंदौर के बालेश्वर महादेव मंदिर में रामनवमी पर हुए हादसे में 36 लोगों की मौत हुई थी। नगर निगम ने उसका नामो-निशान मिटा दिया है। बावड़ी के ऊपर बने अवैध मंदिर को भी तोड़ दिया गया है। इसके अलावा नए मंदिर के ढांचे को भी जेसीबी और पोकलेन की मदद से तोड़ा गया। मंदिर तोड़ने के विरोध में क्षेत्र के रहवासी और व्यवसायी सड़कों पर उतर आये थे जिसके बाद CM शिवराज ने वहीं फिर से मंदिर बनाने का ऐलान किया है।

Latest news
Related news
- Advertisement -spot_img

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

Translate »